BREAKING NEWS
Search

ट्रेड यूनियन्स के हड़ताल के बिहार में मिलाजुला असर, सड़क पर उतरले इंटक कार्यकर्ता

पटना. केंद्रीय ट्रेड यूनियन्स के राष्ट्रव्यापी हड़ताल के  पटना में मिलाजुला असर देखे के मिलल बा .कईगो  संगठन के  द्वारा कईल गईल  हड़ताल में जहां अधिकतर सरकारी बैंक बंद रहल , जबकि  यातायात पूरी तरह से खुलल रहल . आज के हड़ताल में इंटक, एटक सहित कईगो  श्रम संगठन शामिल भईले . इंटक के कार्यकर्ता लोग   सड़क पर उतर के  केंद्र सरकार के  नीति के खिलाफ नारेबाजी भी कईल . हालांकि यातायात पर अधिक प्रभाव ना देखल गईल .

बैंक हड़ताल के  बाजार पर दिखल  असर


आज कईगो ट्रेंड  यूनियन  के हड़ताल के बीच आज बिहार के अधिकतर बैंक  में कामकाज ठप रहल . बिहार में कईगो  बैंक के  लगभग 7600 बैंक  के शाखा  बंद रहल . हालांकि एटीएम खुलला के चलते लोग के कुछ राहत मिलल , लेकिन  बैंक में होखे वाला   ट्रांसजेक्शन पर खास असर पड़ल . प्रोवेंशियल बैंक इम्प्लॉय एसोसिएशन के महासचिव संजय तिवारी  मांग रखत मिडिया के बतवले  कि बैंक के आपस में मर्ज कईल  बंद कर देबे के चाही  खराब ऋण के  सख्ती के वसूली के साथ नया  भर्ती बैंक में होखे के चाही .

हड़ताल पर सियासी बयानबाजी 


ट्रेड यूनियनों के  हड़ताल  के  कांग्रेस औरी  आरजेडी के साथ जदयू  भी समर्थन  देहले बा . कांग्रेस नेता प्रेमचंद्र मिश्रा  हड़ताल के  समर्थन करत   कहले  कि केंद्र के श्रम विरोधी कानून के कारण  आज देश में बेरोजगारी बढ़ रहल बा  सार्वजनिक संपति के बेचल जा रहल बा  . एही के चलते  आज देश के बीस करोड़ मज़दूर  हड़ताल कईले बाड़े .आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी  कहले  की श्रम कानून  में कईल जा  जा रहल  संशोधन के  तत्काल खत्म कर देबे चाही  ताकि लोग के  राहत पहुंचे औरी  बैंक के मर्जर के  रोके के चाही . ओने  जनता दल यूनाइटेड के प्रवक्ता राजीव रंजन  श्रमिक लोग के  हड़ताल के  समर्थन करत कहले की  श्रमिक लोग के कईगो  मांग जायज  बा .  आज कामगार लोग के चलते ही देश के  विकास हो रहल बा  अईसे  में कामगार लोग के जवन भी जायज मांग बा ओकरा के पूरा कर देबे के चाही  .




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *