BREAKING NEWS
Search

मॉरीशस के राष्ट्रपति अपने परिवार के साथ गया में किए पिंडदान

गया :- मॉरीशस के राष्ट्रपति पृथ्वीराज सिंह रूपन ने बुधवार को अपने पितरों (पूर्वज) के मोक्ष की कामना को लेकर प्रसिद्ध विष्णुपद मंदिर परिसर में पिंडदान किया। कर्मकांड में उनकी पत्नी समयुक्ता रूपन सहित परिवार के अन्य सदस्य भी शामिल थे। बता दें कि मॉरीशस के राष्‍ट्रपति दो दिवसीय यात्रा पर बिहार आए हैं। मंगलवार को बोधगया में उन्‍होंने पूजा-अर्चना की थी।

तीन प्रमुख स्थलों में किये गये पिंडदान

मॉरीशस के राष्ट्रपति पृथ्‍वीराज सिंह रूपन ने बुधवार को सुबह आठ बजे पूर्वजों की आत्मा की शांति के लिए तीन प्रमुख स्थलों विष्णुपद मंदिर परिसर, फल्गु तट व अक्षयवट पिंडवेदी पर पिंडदान किया। इसके बाद उन्होंने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ विष्णुपद मंदिर स्थित गर्भगृह में भगवान श्रीहरि विष्णु के चरण चिह्न की पूजा-अर्चना के साथ तुलसी अर्चना की। विष्णुपद प्रबंधकारिणी समिति के सचिव गजाधर लाल पाठक ने कर्मकांड को विधिपूर्वक संपन्न कराया। अक्षयवट में राष्ट्रपति ने सुफल का आशीर्वाद प्राप्त किया। 

रूपन बोले, गया आने के लिए लोगों को करेंगे प्रोत्साहित 

राष्ट्रपति रूपन ने कहा, यहां से मॉरीशस लौटने के बाद लोगों को गया आने के लिए प्रोत्साहित करेंगे। वह बताएंगे कि एक बार जरूर गया जाकर विष्णुपद मंदिर जाएं और श्रद्धा के साथ पूजा-अर्चना करें। राष्ट्रपति ने कहा, हमारे पूर्वज गया जिले की माटी में पैदा हुए थे। वे रोजी-रोटी के लिए मॉरीशस चले गए थे। बिहार से पुराना लगाव है, इसलिए यहां की माटी को हम नमन करते हैं। 

मंगलवार को पहुंचे थे गया

गौरतलब है कि मॉरीशस के राष्ट्रपति पृथ्‍वीराज सिंह रूपन दो दिवसीय दौरे पर मंगलवार को बिहार के बोधगया पहुंचे। उन्‍होंने महाबोधि मंदिर में पूजा-अर्चना करने के बाद मीडिया से खुलकर बात की और गया की प्रशंसा की। उन्‍होंने यह भी कहा कि मॉरीशस से काफी लोग गया आएंगे। महाबोधि मंदिर में शांति मिलती है। 




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *