BREAKING NEWS
Search

तिन तलाक बिल पास होते ही गोपालगंज कोर्ट में दिखा असर , तिन तलाक से परेशान महिला ने अपने ससुर को कोर्ट के सामने सड़क पर चप्पल से पिटा

गोपालगंज : तिन तलाक बिल पास होते ही इसका असर दिखना शुरू हो चूका है गोपालगंज में बुधवार की दोपहर बाद सिविल कोर्ट से निकलते ही एक महिला ने अपने ससुर को बीच सड़क पर पकड़ लिया. ससुर का कॉलर पकड़ने के बाद अपने पति के बारे में पूछा, जवाब नहीं मिलने पर ससुर की चप्पल से पिटाई शुरू कर दी. बुजुर्ग ससुर की पिटाई करते देख आसपास के लोगों ने बीच-बचाव कर झगड़े को छुड़ाकर बुजुर्ग की जान बचा दी. महिला बार-बार तलाक देने और बच्चियों के जीवन यापन के लिए खोरिस का पैसा नहीं देने का आरोप लगा रही थी.कुचायकोट थाना क्षेत्र के बली खरेया निवासी अली अख्तर से बरौली थाना क्षेत्र के सरेया नरेंद्र निवासी सगुप्ता प्रवीन की शादी 14 मार्च 2007 में हुई थी. शादी के बाद इनकी दो बेटियां हुई. इसके बाद पति विदेश गया और लौटकर आने पर उचकागांव में अफरीन नामक महिला से शादी कर ली. इधर, पहली पत्नी को तलाक देकर बच्चियों के साथ घर से निकाल दिया. इस मामले को लेकर न्यायालय में प्रताड़ना का मुकदमा चल रहा था. कोर्ट ने पीड़ित महिला को खोरिस का पैसा देने का निर्देश दिया था.

लेकिन, महिला को आज तक पैसा नहीं मिला. पति से भी उसकी मुलाकात नहीं हुई. इससे आजीज होकर महिला ने अपने ससुर से पति के बारे में पूछा और जवाब अनबन तरीके से देने पर चप्पल से पिटाई कर दी.

तलाक ने बर्बाद की सगुप्ता की जिंदगी

तीन तलाक ने सगुप्ता प्रवीन की जिंदगी बर्बाद कर दी. पति ने पत्नी को आज से नौ साल पहले तीन तलाक बोलकर दूसरी शादी कर ली. आज छोटे-छोटे दोनों बच्चियों को लेकर महिला परेशान हैं. बच्चियों के पढ़ाने-लिखाने के लिए भी पैसे नहीं मिल रहे हैं. कोर्ट द्वारा खोरिस के लिए दो हजार रुपये देने का आदेश हुआ वह भी नहीं मिल रहा है.




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *