BREAKING NEWS
Search

बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय कइले कटेया थाना के सबसे चर्चित मामला “रोहित हत्या कांड” के स्थल जांच

◆ रोहित के परिवार से मिलला के बाद कहले की केहू से डेराएके नईखे, कौनो भी बात होखे त सीधे हमके फ़ोन करींजा।

◆कटेया के पकहॉ बाजार में भी रुक के लोगन से घटना के बारे में लेहले जानकारी।

राकेश कुमार सिंह/डॉ राम किशोर राम कटेया/गोपालगज

बिहार प्रदेश के गोपालगंज जिला अन्तर्गत कटेया थाना के बेलहीं खास गांव के एगो घटना एह बेरा साशन-प्रशाशन से लेके आम लोगन के भी ज़ुबान से लेके दिल आ दिमाग पर छा गईल बा। ई घटना अइसन रूप धारण करलेहले बा की बिहार के पुलिस महानिदेशक (DGP) के भी प्रदेश के गोपालगंज जिला अन्तर्गत कटेया थाना के बेलहीखास गांव में पहुँच के घटना के जांच-पड़ताल करे के पड़ल, नेक दिल बिहार पुलिस महानिदेशक-गुप्तेश्वर पांडेय आज कटेया के बेलहीं खास पहुंच के पीडित परिवार से मिलके परिवार के लोग के काफी समझा-बुझा के एह बात के संतोवना देहले की केहु से डराए के नइखे,अगर कवनो भी तरह के परेशानी होखे त सीधे हमरा से बात कर के बतावे के बा,हर सम्भव रउरा लोग के न्याय दिलवावल जाइ,आ उक्त घटना के जाँच में जे भी दोषी पावल जाइ ओकरा के कड़ा-से कड़ा सजा मिली।
आई रउवा लोगिन के विस्तार से बता दिहल जाव की अइसन कवन मामला रहे की जवना के जांच करे ख़ातिर खुद डीजीपी के पहुचे के परल। ई घटना तब घटल जब कटेया थाना के बेलही खास निवासी 14 वर्षिय युवक रोहित जायसवाल 28 मार्च 2020 के क्रिकेट खेले खातिर घर से गइले।जब शाम के रोहित घरे ना अइले त रोहित के घर के लोग रोहीत के खोज-बिन चालू कर दिहल लो।तबो पता ना लागल सुबेरे जब गाँव के लोग अउरी रोहित के परिवार के लोग रोहित के संगे खेले गइल लइकन से पुछताछ कइल लो तब उलोग रोहित के नदी में डूबे के बात बतावल लोग, तब रोहित के घर के लोग उक्त घटना के जनाकारी अपना स्थानीय थाना कटेया थाना में देहललो, पुलिस के छानबीन कईला के दरम्यान घटनास्थल से रोहित के शव मिलल जवना के पुलिस अपना कब्जा में लेके शव के पोस्टमार्टम खातिर गोपालगंज सदर अस्पताल भेज देहलस मृतक रोहित जायसवाल के
पिता के द्वारा थाना में छह लोग पर नामजद प्राथमिकता दर्ज करवावल गइल पुलिस तुरन्त करवाई करके पांचगो नामजद के जेल भेज देहलस जेइमे से चारगो नाबालिक के चलते जुमेनाइल कोर्ट द्वारा करोना महामारी के चलते जमानत पर छोड़ दिहल गइल बा एगो अभियुक्त बसीर अंसारी अभी भी फरार चल रहल बा।
एही बीच कुछ असामाजिक तत्व आ कुछ न्यूज पोर्टल एह मामला के संप्रैदिकता के रंग देके भ्रामक खबर चलावे लागाल लो जेकरा के देख के स्थानीय थाना में ऑफ इंडिया आ खबर वेव पोर्टल के संपादक के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज हो गइल ओकरा बाद प्रशासनिक अधिकारी में ये मामला के लेके काफी गंभीरता देखल गइल दु दिन पहिले सारण डीआईजी के के द्वारा पहुच के घटनास्थल जाँच कइल गईल औरी पीड़ित परिवार के घर के लोग से अउरी गाँव के लोग से मिल के घटना के जानकारी लिहल गइल।
आज शनिचर के बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे जी घटनास्थल के जांच कइले घटना के बारे में गाँव के लोग से पूछले अउरी उनकर बयान दर्ज कइले। आ सबसे कहले की पुलिस रउआ लोग के संगे बा, रउरा लोगिन के न्याय मिली।डीजीपी घटनास्थल से निकलला के बाद पकहा बाजार में भी रुक के आम लोगन से घटना के बारे में जानकारी लेहलन,संगही ए घटना से जुडल मामला के छानबीन खातिर स्थानीय थाना पहुँच के जाँच पड़ताल कइले। ई बात हर जगह चर्चा के विषय बनल बा कि पुलिस महानिदेशक जी सहज व सुलभ स्वभाव के बानी।
मीडिया द्वारा बात करे पर डीजीपी साहब कहलन की रोहित हत्याकांड के जाच पुलिस प्राथमिकी के आधार पर होता ए मामला मे जे भी दोषी होई ओकरा पर कडा से कड़ा कार्रवाई होई एही बीच न्यूज पोर्टल पर संप्रैदिक्ता भावना के खबर दिखावे के मामला के सीआईडीओ के सौप दिहल गइल।का बा मामला के सच्चाई ई जल्दिए सबके सामने आई,
उक्त मामला में शामिल सगरे लोग जल्दिए पुलिस के गिरफ्त में होइहे,डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय के संगे संगे सारण डीआईजी विजय कुमार वर्मा,गोपालगज पुलिस अधीक्षक-मनोज कुमार तिवारी एसडीपीओ- अशोक कुमार चोधरी,इंस्पेक्टर सतीश कुमार हिमांशु आ पुलिस के अन्य कईगो पदाधिकारी लोग भी मौजूद रहलन।



Avatar


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *