BREAKING NEWS
Search

गोपालगंज में जब रोस्टर के अनुसार खुलल दुकान तब टूटत दिखल लॉकडाउन के नियम

गोपालगंज । लॉकडाउन के चौथा  चरण में दुकान खोले के छुट मिलला के बाद  शनिवार के  जब दुकान खुलल तब  हर ओर कोरोना संक्रमण से बचाव के  निर्धारित कईल  गईल  नियम टूटत देखल गइल । ऐह  बीचना  शारीरिक दूरी दिखल औरी नाही । न लॉकडाउन के  चिता। न हाथ में ग्लब्स औरी  नाही मास्क। शर्त के साथे  दुकान खोलला के  छूट देबे के  व्यवस्था आम लोग के   सहूलियत खातिर  लागू कइल  गईल बा। लेकिन बाजार खुलते ही लोग में ना  त लॉकडाउन के पालन के  चिता देखाई दिहल औरी नाही  शारीरिक दूरी के परवाह। शनिवार के  छूट के साथे  बाजार खुलला के बात पर अधिक संख्या में लोग घर से बाहर निकलल । ऐसे में हर ओर शारीरिक दूरी के अनुपालन के  व्यवस्था फेल लउकल । चाहे उ  सब्जी के  मंडी होखे  या अन्य प्रतिष्ठान। यहां तक की गैराज आदि में काम करे वाला   कर्मी भी बगैर मास्क के लउकले । एकरा अलावे कपड़ा रेडीमेड के अलावा श्रृंगार प्रसाधन के  दुकान पर भी महिला लोग के  भीड़ देखाई दिहल । भीड़ में पुरुष लोग के  संख्या भी कम ना रहल। कुछ लोग त मास्क लगाके  शहर में निकलल रहुए । लेकिन शारीरिक दूरी के अनुपालन में मास्क लगावे वाला लोग भी बेपरवाह दिखल । कईगो  महिला बाजार में दो-चार अन्य महिला लोग  के साथे  घूमत  नजर अइली । इनकरा लोग के चेहरा  चेहरे पर मास्क ना दिहल । कुछ लोग चेहरा  पर गमछा लगाके  निकलल , लेकिन इ  गमछा हर दु -चार मिनट पर हटत देखल गइल । कुल मिलाके  लॉकडाउन के लेके  प्रशासन के  ओर से कइल जा  रहल  सख्ती के शनिवार के दिने   धड़ल्ले से मखौल उड़ावत देखल गइल । अभी भी पूरा देश लॉकडाउन के स्थिति में बा । लॉकडाउन के  सफल बनावे खातिर   पूरा सरकारी महकमा एड़ी चोटी एक कइले बा  । लोग के  घर में रहे के  नसीहत दिहल जा रहल बा , लेकिन बाजार में रोस्टर के अनुसार खुले वाला  दुकान में लोग ऐह  सब बात से अनभिज्ञ नजर आईल । जानकार लोग के मानी त एहिजा ना त कवनो  सुरक्षा के  इंतजाम लउकल  और ना ही कवनो शारीरिक दूरी बनावे  के  व्यवस्था। ऐह  परिस्थिति में लोग आपन  जान जोखिम में डाल के  बाजार में पहुंच रहल नबा । लेकिन शारीरिक दूरी के  अनुपालन ना  होखला के पीछे काफी हद तक दुकानदार ही जिम्मेदार बाड़े ।कवनो दुकानदार अपना दुकान पर  शारीरिक दूरी रखे के  व्यवस्था ना कइल देखल गउअन




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *